Translate

BSE-NSE Ticker

Monday, December 6, 2010

क्रेडिट कार्ड के रिवॉर्ड प्वाइंट में छुपा बचत का नुस्खा

अधिक ब्याज दरों की वजह से क्रेडिट कार्ड की आलोचना की जाती रही है।

हालांकि, प्लास्टिक मनी के बेजा इस्तेमाल या लापरवाही की वजह से भी ग्राहकों को नुकसान होता रहा है। क्रेडिट कार्ड से आप कभी भी खरीदारी कर सकते हैं और बाद में इसका भुगतान करते हैं। प्लास्टिक कार्ड के साथ सिर्फ यही फायदा नहीं है। अगर आप इसे बुद्धिमानी से इस्तेमाल करें तो यही कार्ड आपके लिए बेहतरीन टूल हो सकता है। आप अपनी हर खरीदारी पर 10 फीसदी तक की बचत कर सकते हैं।

लॉयल्टी प्रोग्राम की दुनिया में आपका स्वागत है। आज हम आपको सही लॉयल्टी प्रोग्राम का चुनाव करने के बारे में बता रहे हैं। हम आपको यहां लॉयल्टी प्रोग्राम और उसके इस्तेमाल के तरीके के बारे में विस्तार से बता रहे हैं। अधिकतर लॉयल्टी प्रोग्राम के तहत क्रेडिट कार्ड से किए गए हर खर्च पर रिवॉर्ड प्वाइंट मिलता है। कार्ड इंडस्ट्री में इसे 'अर्न्ड प्वाइंट' कहते हैं। इस अर्न्ड प्वाइंट को ट्रैवल, शॉपिंग, डाइनिंग और एंटरटेनमेंट के लिए भुनाया जा सकता है। अमेरिकन एक्सप्रेस के सीईओ शैलेश बैदवान का कहना है, 'हममें से कई लोग इसे ठीक से समझ नहीं पाते हैं, जबकि इन कार्यक्रमों को कार्ड सदस्यों, मर्चेंट और कार्ड कंपनियों के हित में डिजाइन किया जाता है।
दरअसल, रिवॉर्ड प्वाइंट अब कंज्यूमर करेंसी का नया रूप है। उपभोक्ता इसे भुना सकते हैं, दूसरे को दे सकते हैं और कई तरह के प्रोडक्ट की खरीदारी में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।'

हालांकि, कई बार कार्ड सदस्य बाजार में फैले भ्रम से लॉयल्टी प्रोग्राम का फायदा नहीं उठा पाते हैं। अक्सर गलत विकल्प का चुनाव करने से ग्राहकों को अर्न्ड प्वाइंट का खास फायदा नहीं मिल पाता है। ऐसे में अच्छा रिटर्न पाने के लिए प्लास्टिक कार्ड की तरफ से दिए गए ऑफर को ठीक से समझना चाहिए। लंबी अवधि में आपको कम खर्च पर भी अर्न्ड प्वाइंट अधिक मिलते हैं। इसलिए आपको लॉयल्टी कार्यक्रम का चुनाव करने में सावधानी बरतनी चाहिए। किसी भी कार्ड सदस्य को लॉयल्टी प्रोग्राम का चयन करने के दौरान अर्न्ड प्वाइंट और उसे भुनाने की रफ्तार का आकलन करना चाहिए।

सामान्य अर्न : आमतौर पर प्रोडक्ट वैल्यू की कीमत को ध्यान में रखकर कार्ड कंपनियां रिवॉर्ड प्वाइंट ऑफर करती हैं। अमेरिकन एक्सप्रेस के बैदवान का कहना है, 'सामान्य स्थिति में कार्ड सदस्य हर 40-200 रुपए के खर्च पर 1 प्वाइंट हासिल करता है। यह काफी हद तक बैंक और कार्ड पर निर्भर करता है।' अमेरिकन एक्सप्रेस हर 40 रुपए के खर्च पर 1 प्वाइंट देता है। एचडीएफसी बैंक टाइटेनियम क्रेडिट कार्ड पर हर 150 रुपए के खर्च पर दो प्वाइंट देता है। इसके लिए एक स्टेटमेंट साइकल में 15,000 रुपए सीमा रखी गई है। वहीं, जब आपका खर्च 15,000 रुपए से ऊपर हो जाए, तब आपको 50 फीसदी अधिक रिवॉर्ड प्वाइंट मिलते हैं। यानी 15,000 रुपए से अधिक हर 150 रुपए खर्च करने पर आपको 3 प्वाइंट मिलते हैं। इसी तरह से सिटी क्रेडिट कार्ड आपको सप्ताहांत में हर 200 रुपए खर्च करने पर 5 कैश रिवॉर्ड प्वाइंट देता है, वहीं सप्ताह के सामान्य दिनों में यही घटकर 1 कैश रिवॉर्ड प्वाइंट हो जाता है। बैदवान कहते हैं, 'कुछ प्रोग्राम में खास कैटेगरी के तहत खर्च करने पर रिवॉर्ड प्वाइंट नहीं दिया जाता है। इसमें पेट्रोल-डीजल पर किए जाने वाला खर्च शामिल है। इसलिए ग्राहकों को इसका भी ध्यान रखना चाहिए।'

बोनस प्वाइंट: कुछ प्रोग्राम में ग्राहकों को बोनस प्वाइंट प्रोग्राम ऑफर किया जाता है। इसके तहत ग्राहक दोगुने, तिगुने या 10 गुना तक प्वाइंट हासिल कर पाते हैं। इसके लिए आप सीमित अवधि के लिए मिलने वाले ऑफर का ध्यान रखें। वहीं कुछ खास मर्चेंट से खरीदारी करने पर भी बोनस प्वाइंट ऑफर किया जाता है। आपको हासिल किए गए रिवॉर्ड या कैश प्वाइंट के भुनाने की अंतिम तारीख का भी ख्याल रखना चाहिए। अगर आप भुनाने की अंतिम तारीख का ख्याल नहीं रखेंगे, तब आपके द्वारा हासिल किए गए सभी प्वाइंट बेकार हो जाएंगे। हालांकि कुछ क्रेडिट कार्ड नॉन-एक्सपायरी प्वाइंट की इजाजत भी देते हैं। इंटरनेशनल मनी मैटर्स के चीफ फाइनेंशियल प्लानर और एमडी लोवाई नवलखी का कहना है, 'अगर आपके कार्ड पर नॉन-एक्सपायरी प्वाइंट की सुविधा मिल रही है, तब आपको हर तरह की खरीदारी क्रेडिट कार्ड से ही करनी चाहिए। इससे आप कम से कम समय में अधिक से अधिक प्वाइंट हासिल कर पाएंगे।'

रिवॉर्ड कैटेगरी की जांच करें: अधिकतर प्रोग्राम के तहत कार्ड सदस्यों को प्वाइंट का इस्तेमाल करने के कई विकल्प दिए जाते हैं। इसमें गारमेंट, होम अप्लायंसेज, कॉस्मेटिक, गिफ्ट वाउचर और चैरिटी डोनेशन जैसे विकल्प प्रमुख हैं। हालांकि, आपको ऐसे प्रोग्राम का चयन करना चाहिए जिसमें लाइफस्टाइल से जुड़ी चीजों के लिए अधिक प्वाइंट मिलता हो।

एयर माइल्स में कनवर्ट करना: कुछ बैंक ग्राहकों को रिवॉर्ड प्वाइंट को एयर माइल्स में तब्दील करने की सुविधा देते हैं। इसमें ग्राहक अपने रिवॉर्ड प्वाइंट से एयर टिकट खरीद सकता है। इस प्रोग्राम के तहत घरेलू और अंतरराष्ट्रीय एयरलाइंस का टिकट खरीदने की सुविधा है या नहीं? इसकी जांच करें।

लॉयल्टी प्रोग्राम का सही ढंग से इस्तेमाल करना जरूरी: आपको सही लॉयल्टी प्रोग्राम का चयन करना चाहिए। आपको इस्तेमाल करने के तरीकों का पता होना चाहिए। अगर आप लॉयल्टी प्रोग्राम का अधिकतम लाभ उठाना चाहते हैं, तब आपको इसके अनुसार योजना बनानी होगी। यहां पर कुछ आसान तरीके सुझाए जा रहे हैं जिनसे आप तेजी से रिवॉर्ड प्वाइंट हासिल कर सकते हैं।

अधिक से अधिक प्वाइंट हासिल करने का तरीका: आप अपने सभी खर्च एक ही कार्ड से करें। इससे आप ज्यादा तेजी से प्वाइंट हासिल कर पाते हैं। बड़ी खरीदारी भी इसी कार्ड से करें।

रोजमर्रा की खरीदारी कार्ड से करें: आप अपने सभी खर्चों को कार्ड से करने की कोशिश करें। जैसे सुपरमार्केट, गैस स्टेशन, सिनेमा में किए जाने वाले खर्चों को कार्ड से ही करें।

यूटिलिटी बिल का भुगतान कार्ड से करें: बिजली का बिल, बीमा प्रीमियम और फोन बिल के भुगतान कार्ड से करें। हालांकि, क्रेडिट कार्ड से मिलने वाले इन फायदों का लाभ उठाने के साथ ही अपनी जरूरत का भी ध्यान रखें। नवलखी का कहना है, 'अगर आप बार-बार ट्रैवल करते हैं, तब क्रेडिट कार्ड प्रोग्राम को फ्रीक्वेंट फ्लायर प्रोग्राम के साथ जोड़ने की कोशिश करें। अगर आप नियमित तौर पर खरीदारी करने का शौक रखते हैं, तब उससे हासिल होने वाले प्वाइंट को अपने पसंदीदा स्टोर के लिए वाउचर हासिल करने से जुड़े प्रोग्राम का चुनाव करें। कार्ड से मिलने वाले प्वाइंट का बेहतरीन तरीके से इस्तेमाल तभी किया जा सकता है, जब आप नियमित तौर पर प्वाइंट को अपनी जरूरत के प्रोडक्ट संबंधी वाउचर के लिए कनवर्ट कराएं।'

No comments:

Economic Event Calendar

Economic Calendar >> Add to your site

Best Mutual Funds

Recent Posts

Search This Blog

IPO's Calendar

Market Screener

Industry Research Reports

NSE BSE Tiker

Custom Pivot Calculator

Popular Posts

Market & MF Screener

Company Research Reports